Tuesday, August 12, 2008

अब हमारी बारी

अभिनव बिन्द्रा को लाखों बधाईयाँ!!

वर्षों के इंतज़ार के बाद आखिरकार भारत को एक व्यक्तिगत स्वर्ण पदक मिल ही गया। अभिनव बिन्द्रा की मेहनत रंग लाई और ११ अगस्त को बीजिंग ओलम्पिक में १० मीटर एयर रायफ़ल व्यक्तिगत स्पर्धा में उन्होने प्रथम स्थान पर कब्जा करते हुये भारत का तिरंगा फ़हरा ही दिया।

आज उन्हे बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति से लेकर अलग अलग प्रांतों के मंत्रीगण और यहाँ तक कि स्थानीय नेता तक उन्हे बधाई देने में लगे हुए है। मैने आज ही ऑफ़ीस आते आते देखा किसी तो स्थानीय नेता का होर्डिंग लगा था चौराहे पर अभिनव बिन्द्रा को बधाई देने का। रातों रात लग गया भई, मानो बता रहे हों कि- देखा हमने पहले बधाई दी है।

गुगल पर खोजने पर पता पड़ा कि अमिताभ बच्चन भी कुछ तो बोले हैं इस सफ़लता पर। अच्छा ही तो है, उपलब्धि की तो सब जगह प्रशंसा होनी ही चाहिये।

और अब आयेगी बारी - इनामों की (या कम से कम इनामों की घोषणाओं की)।

महाराष्ट्र और कर्नाटक के मुख्यमंत्री कार्यालय से तो १०-१० लाख के नकद पुरस्कार की घोषणा तो आ ही चुकी है। देखते हैं और कहाँ कहाँ से क्या क्या आता है। अगर कोई हिसाब रख सके तो अच्छा होगा कि कितनी घोषणा अमल हुई और कितनी सिर्फ़ घोषणा ही रह गई।

मगर अपनी बात कहूँ तो मैं तो इंतज़ार में हूँ अभिनव बिन्द्रा के वापस भारत लौटने के। मुझे इस बात में खासी दिलचस्पी रहेगी कि जब ये ऑलम्पिक पदक विजेता खिलाड़ी वापस भारत लौटेगा तो उसके साथ क्या क्या होगा, या फ़िर क्या क्या नहीं होगा।

- जिस तरह क्रिकेट खिलाड़ियों का स्वागत हुआ था, क्या इस खिलाड़ी का भी वैसा ही स्वागत होगा?
- क्या लोगों में इसके लिये वैसी ही दिवानगी देखने को मिलेगी, जैसी क्रिकेट खिलाडियों के लिये होती है?
- क्या हजारों की संख्या में लोग इस खिलाड़ी को लेने हवाई अड्डे पहुचेंगे?
- हवाई अड्डे पर इस खिलाड़ी की फ़जिती की खबर तो नहीं सुनने को मिलेगी ना?
- क्या नामी व्यावसायिक घरानों की तरफ़ से इसपर भी इनामों की बरसात होगी?
- क्या कोई रिलायंस, किंगफ़िशर या फ़िर कोई शाहरुख खान इस खेल या इसके खिलाड़ितों को प्रायोजित करेगा?
- क्या भारत में इस खेल का स्तर बढेगा, ताकि और नये खिलाडी इसकी तरफ़ आकर्षित हों?
- क्या इस खेल के खिलाड़ियों को वह सारी सुविधा मिलेगी जिससे आने वाले समय में हम और पदकों की आशा रख सकें?

मेरे ख्याल से तो देश की जनता के लिये वह असली इम्तिहान की घड़ी होगी जब अभिनव बिन्द्रा भारत की जमीन पर वापस पैर रखेगा। तब हम सबको यह जाहिर कर देना होगा कि हम क्रिकेट के अलावा अन्य खेलों को भी तवज्जों देते हैं, और हम अपने देश के लिये कोई भी सम्मान जीतने वाले हर खिलाड़ी से एक समान प्यार करते है।

अभिनव ने तो अपना काम कर दिया, दोस्तों अब हमारी बारी है।

14 comments:

mahendra mishra said...

मेरे ख्याल से तो देश की जनता के लिये वह असली इम्तिहान की घड़ी होगी जब अभिनव बिन्द्रा भारत की जमीन पर वापस पैर रखेगा। तब हम सबको यह जाहिर कर देना होगा कि हम क्रिकेट के अलावा अन्य खेलों को भी तवज्जों देते हैं, और हम अपने देश के लिये कोई भी सम्मान जीतने वाले हर खिलाड़ी से एक समान प्यार करते है।
apke vicharo se sahamat hun . apni baat bebaki se rakhane ke liye abhaar

Udan Tashtari said...

जीत की बहुत बधाई एवं शुभकामनाऐं!

izmir evden eve said...

thank you for sharing
destek@evdeneve-nakliyat-name.tr

motorlu panjur sistemleri said...

thank you

izmir evden eve taşıma said...

thank you for sharing
info@izmirevdenevetasima.net

izmir evden eve said...

thank you for sharing
info@evden-eve-nakliyeciler.com

izmir ev taşıma said...

जीत की बहुत बधाई एवं शुभकामनाऐं!

:))

Büşra said...

thanks for sharing..

www.izmirmatbaa.com

otogaz said...

thanks...
bilgi@ozmarmaralpg.com

saç ekimi said...

thanks

olimpiyatreklam said...

thanks...
info@olimpiyatreklam.com

Büşra said...

thnx for sharing..

www.izmirevdeneve.com

info@izmirevdeneve.com

bdkaritma said...

thanks.
bdk@bdkaritma.com

su kaçağı said...

thanks..