Monday, February 27, 2006

लो कल्लो बात…

जहाँ लोग भूतों से डर कर "हनुमान चालीसा" पढने लगते हैं, वहीं कुछ "भूत" ऐसे भी हैं जो अपना "होना" सिद्ध करने के लिये नई तकनीक का सहारा लेने से भी नहीं हिचकिचाते।

एक ख्यात दैनिक से प्रकाशित खबर पर गौर कीजिये। और "हिम्म्त" हो तो "बात" भी कीजिए।


आल द बेस्ट!!!

1 comment:

Hindi Blogger said...

वो दिन दूर नहीं जब भूतों की अपनी वेबसाइट होगी. और क्या पता ब्लॉगर बिरादरी में भूत भी शामिल हो चुके हों!